User-agent: * Disallow: /wp-admin/ Allow: /wp-admin/admin-ajax.php Sitemap: https://rvnstudy.com/sitemap_index.xml

ग्वालियर का किला,किले पर निर्मित महल, पूछे जाने वाले प्रश्‍न || Gwalior fort

Gwalior ka kila ग्वालियर का किला

ग्‍वालियर का किला

Gwalior ka kila: ग्वालियर के किले का निर्माण महाराजा सूरजसेन ने 6वीं शताब्दी में करवाया था । ग्वालियर के किले को भारत के किलों का रत्‍न कहा जाताा है।

ग्वालियर स्थित यह किला बलुआ पत्थर(सेडस्टोन) की 100 मीटर ऊंची चट्टान पर स्थित है।

जिसकी लंबाई उत्तर से दक्षिण 2-5 कि.मी. तथा चौड़ाई पूर्व से पष्चिम 200 मी. से 725 मी. तक है।

दुर्ग का प्राचीनतम स्मार्क सूर्य मंदिर है। जिसका निर्माण हूड राजा मिहिर कुल ने 525 में अपने शासन के 15 वे वर्ष में मातृ चेष्ट ने करवाया था। आठवी शताब्दी में यहॉ गुर्जर-प्रतिहार वंष अस्तित्व में आया जिसके बाद 10 वी शताब्दी में इस दुर्ग पर कच्छपघात वंष के राजाओं का अधिकार हो गया।

13 वीं शताब्दी में इस किले को कुतुबुद्दीन ऐबक ने अपने अधीन कर लिया और अपने दामाद इल्तुतमिष को यहां का अमीर नियुक्त किया। 1398 ई. में सुप्रसिद्ध ग्वालियर के किले पर तोमर राजपूतों का आधिपत्य हुआ 1523 ई. लोधी वंष के इब्राहिम लोदी ने तोमर राजा विक्रमादित्य को पराजित कर इस किले को अपने अधीन कर लिया 1526ई. में पानीपत के प्रथम युद्ध बाद यह दुर्ग मुगलों के अधीन आ गया।

मध्‍य प्रदेश के प्रमुख किले व दुर्ग 

1754 ई. से 1781 ई. के बीच यह दुर्ग मुगलों के अधिकार से किट कर क्रमाषः मराठों, गोहद के राणा तथा अंत में 1780 ई. में अंग्रेजों के अधिकार में आ गया 1782 में सल्वाई की संधि द्वारा ग्वालियर दुर्ग पर सिंधिया वंश का अधिकार हो गया इसके बाद यह दुर्ग क्रमषः अंग्रजों व सिधिया वंष के अधीन रहा 1858ई. ह्यूरोज ने इस दुर्ग पर अधिकार कर लिया तथा 1886 ई. में अंततः यह दुर्ग सिधिया मराठों को प्राप्त हुआ। स्वतंत्रा प्राप्ति के बाद 1948ई. में ग्वालियर मध्य भारत के अंतर्गत शामिल कर लिया गया।

किले पर निर्मित महल

करन मंदिर, मानसिंह मंदिर, विक्रम मंदिर, जहांगीर महल, शाहजहाँ महल, तथा किले की तलहटी में गूजरी महल मुख्य है। तथा सूर्य मंदिर 6 वी शताब्दी में राजा मिहिर कुल के द्वारा करवाया गया] तेली का मंदिर(750ई. में निर्मित)] चतुर्भुज मंदिर(876ई.)] तथा सास-बहू मंदिर(1093ई.) प्रमुख हैं] इसके अलावा तालाब] बाबडी, जलकुण्ड तथा कुंए भी इस किले की सुदरता को बढाते हैं।

Gwalior ka kila

ग्‍वालियर के किले से पूछे जाने वाले प्रश्‍न

मानसिंह महल कहां स्थित है – ग्‍वालियर

शहस्‍त्रवाहु का मंदिर कहां स्थित है – ग्‍वालियर के किले में

तेली का मंदिर कहां स्थित है – ग्‍वालियर के किले पर

गूजरी महल संग्रहालय कहां स्थित है – ग्‍वालियर

ग्‍वालियर के किले में कितने दरवाजे हैं – पांच

मानसिंह महल का निर्माण किसने करवाया था – राजा मानसिंह

MP KE MAKBARE तानसेन का मकबरा

ग्‍वालियर के किले का निर्माण किसने करवाया था – राजा सूरजसेन ने

सालावाई संधि के बाद किस का  शासन ग्‍वालियर पर हो गया था – सिंधिया वंश

ग्‍वालियर किले पर तोमर राजपूतों का आधिपत्‍य कब हो गया था -1398 ई.

सालावाई संधि कब हुई थी – 1782 ई. में

ग्‍वालियर के किले का निर्माण किस पहाड़ी पर किया गया है उसे किस नाम से जाना जाता है – गोपगिरि पहाड़ी

दुर्ग का प्राचीनता स्‍मार्क सूर्य मंदिर है जिसका निर्माण किसके द्वारा करवाया गया था – राजा मिहिर जो कि हूड वंश का था

RVNSTUDY फेसबुक पेज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 Comments