User-agent: * Disallow: /wp-admin/ Allow: /wp-admin/admin-ajax.php Sitemap: https://rvnstudy.com/sitemap_index.xml

मध्य प्रदेश में प्रमुख मिट्टियां | madhya pradesh ke mitti

मध्य प्रदेश में प्रमुख मिट्टियां

मध्य प्रदेश में प्रमुख मिट्टियां मृदा शब्द की उत्पत्ति लैटिन भाषा के शब्द सोलम से हुई है जिसका अर्थ है- फर्श मृदा, पृथ्वी को एक पतले आवरण में ढंके रहती है तथा जल और वायु की उपयुक्त मात्रा के साथ मिलकर पौधों को जीवन प्रदान करती है। मध्य प्रदेश में सबसे अधिक (43.4 प्रतिशत) भूभाग पर जलोढ़ मिट्टी पायी जाती है और अन्य मिट्टियों में काली मिट्टी, लाल मिट्टी और लेटाराइट मिट्टी पायी जाती है।


मध्य प्रदेश में पाँच प्रकार की मिट्टी पाई जाती हैं –

  1. काली मिट्टी
    • गहरी काली मिट्टी
    • साधारण काली मिट्टी
    • छिछली काली मिट्टी
  2. जलोढ़ मिट्टी
  3. लाल पीली मिट्टी
  4. लेटेराइट मिट्टी
  5. मिश्रित मिट्टी


मध्य प्रदेश के पश्चिमी भाग में काली मृदा, उत्तर-पश्चिमी भाग में जलोढ़ मृदा, उत्तर-पूर्वी भाग में मिश्रित लाल व काली मृदा, दक्षिण-पूर्वी भाग में लाल-पीली मृदा का विस्तार पाया जाता है।

मिट्टियांक्षेत्रप्रमुख जिले
काली मिट्टी (गहरी काली मिट्टी )मालवा क्षेत्रनरसिंहपुर, होशंगाबाद, हरदा, शहडोल, उमरिया, जबलपुर, कटनी, सागर, दमोह, विदिशा, रायसेन, भोपाल, सीहोर, राजगढ़, उज्जैन, देवास, शाजापुर, मंदसौरर, नीमच, रतलाम, झाबुआ, अलीराजपुर, धार, इंदौर, खरगोन, बडवानी, खंडवा, गुना,(आंशिक) और सीधी(आंशिक रूप से), अनूपपुर, अशोकनगरर, बुरहानपुर, शिवपुरी,(आंशिक रूप से) दतिया(आंशिक रूप से)
साधारण काली मिट्टीमालवा क्षेत्रजबलपुर, सागर, रायसेन, सीहोर और शिवपुरी जिले के कुछ हिस्से
छिछली काली मिट्टीमालवा क्षेत्रछिंदवाडा जिला, बैतूल जिला, और सिवनी जिला आदि
लाल पीली मृदाबघोलखंड क्षेत्र मेंमंडला, डिंडोरी, बालाघाट, रीवा, सतना, पन्ना, छतापुर, टीकमगढ़, शिवपुरी,(आंशिक रूप से) गुना(आंशिक रूप से) और सीधी (आंशिक रूप से)
जलोढ़ मृदामध्य प्रदेश के उत्तरी भू भाग मेंग्वालियर, मुरैना, श्योपुरकला, भिंड और शिवपुरी (आंशिक रूप से)
कछारी मिट्टी चंबलचंबल क्षेत्र गोहदभिंड तथा मेहगांव जोरा सबलगढ़ व विजयगड़ तहसील(मुरैना) के अधिकांश भाग पर तथा ग्वालियर श्योपुर एवं पोहरी तहसील के कुछ भाग पर
मिश्रित मिट्टीश्योपुर, मुरैना, भिण्ड, ग्वालियर और शिवपुरी
शुष्क मृदामध्य प्रदेश में नहीं पाई जाती है।

Recent Posts –